Urdu Deva Translation Academy
You can not select more than 25 topics Topics must start with a letter or number, can include dashes ('-') and can be up to 35 characters long.

3.4 KiB

ईस

तख़ल अल ि – शयर अलईक 4.0 न-उल-अक(CC BY-SA 4.0)

यह एक इतसर किल-ए-मिअह ह ( और मबदिल नह ) [ लइसस ] ](http://creativecommons.org/licenses/by-sa/4.0/).

आप खदमर ह

*** शयर कर ** - मव ि ज़र शकल म कर और द तक़स कर

  • ** एडट ** - रिस, तबदल, और मव पर र करनि

ि और तवकिरत र पर इसतमल कि

इसस यईसस क शरइत पर अमल करत वक़त इन इस  नह कर सकत

दरज त क तहत

***इतसब *** आप कम क, आग दरज तर, इब कर : असल कIम यह दसिब ह ttps://unfoldingword.bible/academy/." इन अमल तक कतहत कम म कह यह तजवज नहिए क हम आपक इस कम क इसल क आपकियत कर रह I

***शयर अलइक ** - अगर आपन मवद मई तबद नयि , त, आपक अपन शरकत असल लईसस क तहत तक़सम करनि I

** इसक अलवई इज़ नह ** आप क शरइत य तकन इकत , दसर ,जइसस मिर ह , कि लगिए नह कर सकत I

ि

आपक अव हलक म , मवद क अनिर किए , लईसस कथ अमल करन ज़ररत नह आपक इसिल कल इतलक़ इसि हदद क जररत नह

आपकई व नहएग I लईसस आपक आपक मतलब इसिल किए ज़र तमम इजज़तनह सकत I मिल कर पर, मवद क इसिल , अव हक़रज़द, य अख़लक़ पर मनसर ह I